बिजली का पावर कम होय से सुखात गेहूं

बतावत पावर कम आवै के बारे मा
बतावत पावर कम आवै के बारे मा

जिला बांदा, ब्लाक नरैनी, गांव गुढ़ाकला। हेंया पम्प कैनाल खातिर तीन साल पहिले बिजली पावर हाउस बनावा गा रहै। जेहिसे किसानन के सिंचाई होई सकै। बिजली का पावर कम होय के कारन किसान सिंचाई खातिर परेशान हैं।
गांव का कल्लू, मोहन लाल अउर रमाकांत बतावत है कि हमरे गांव के वा नहर के दूरी ग्यारह किलोमीटर है। नहर से गुढ़ा ग्राम पंचायत अउर नौगंवा ग्राम पंचायत के किसानन के लगभग दुई हजार बीघा खेत के सिंचाई होत है। बोल्टेज नहीं आवत यहिसे किसानन के बोई बोवाई गेहूं के फसल सूखी जात है।
पम्प कैनाल मिस्त्री कमलेश कहत है कि पहिले बांदा से सीधे गुढ़ा पम्प कैनाल खातिर ग्यारह हजार पावर के लाइन रहै। अब नरैनी से बिजली सप्लाई होत है अउर तेतिस हजार पावर के लाइन लाग है। यहिके बाद भी बोल्टेज के परेशानी है।
जेई अफजल हुसैन कहत है कि बांदा से सीधे गुढ़ा पम्प कैनाल खातिर बिजली गे है। वहिमा बीच बीच तार खराब है। अब बजट अबै के बाद ठीक करावा जई।