बाहर से अच्छा, अन्दर से खराब

2013-08-02 16.16.35जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड रीगा, पंचायत पकड़ी, गांव मठवा। उहां अनुसूचित टोला के राजकीय प्राथमिक विद्यालय में भवन के पक्का लगभग दो साल से टुटल हई। जेई कारण शिक्षक रसोइया अउर बच्चा सबके बड़ा परेशानी होई छई।
उहां के बच्चा पिंकु कुमारी, विणा कुमारी, सोनी कुमारी सब कहलथिन कि विद्यालय के पक्का दु साल से टुटल हई। हमनी के पढ़े के समय क्लाष में मिट्टी हो जाइछई। विद्यालय बाहर से देखे मे बहुत अच्छा लगइ छई, लेकिन अंदर के पक्का टुटल हई। दीवार के चारों तरफ से चूहा के बील अउर मिट्टी के ढ़ेर लागल हई। खाना खाय के बड़ा दिक्कत होइ छई। प्रधानाध्यापक संजीप कुमार यादव कहलथिन कि विद्यालय के फिल्ड गहरा हई। केतना बेर प्रखण्ड शिक्षा पदाधिकारी अलथिन, देखलथिन अउर लिखके ले गेलथिन।लेकिन अभी तक कोई सुनवाइ न हई। बच्चा के नामांकन एक सौ पचपन हई, अउर उपस्थिति लगभग एक सौ बीस हई। एई विद्यालय में दुगों शिक्षक हई।
मुखिया सोमारी देवी कहलथिन कि हम जिला में लिखके भेजले छी, लेकिन कोई सूचना न आयल हई। जेई कारण मरम्मति न होइ छई।
प्रखण्ड शिक्षा पदधिकारी इषलाम अंसारी कहलथिन कि हम पक्का मरम्मत के लेल पांच हजार रुपईया दे रहल छी। जहां-जहां पक्का फुट गेल हई उहां पर मरमती करबालेथिन।