बांदा जिले के भवानीपुर में पानी की कमी से जूझते लोग

बांदा जिला के ब्लाक तिंदवारी गांव भवानीपुर मा मडइन का आरोप है कि दुई महीना पहिले जल निगम के जेई हमार गांव मा आये रहै अउर कहत रहै कि पन्द्रह-पन्द्रह सौ रुपिया जमा कई देव तौ तुम्हार कनेक्शन होई जई। जेहिसे पानी के सप्लाई गांव मा चालू होई जई, पै अबै तक न कउनौ के कनेक्शन भे आय अउर न तौ पानी चालू भा आय। हिंया के मडई अधिकारिन के चक्कर मा काटत है कि हमार कनेक्शन अउर पानी सप्लाई चालू करै।

कुसुमकली का कहब है कि पइसा पानी के खातिर जमा किन्हें रहन। जउन सप्लाई वाले नल है उनके खातिर पईसा जमा किन्हें हन। सप्लाई वाले कहत रहै कि चार छह दिन मा लगा देब, पै अबै तक नहीं लाग आहीं। पानी का बहुते परेशानी होत है। सबै नल बिगड़े पड़े हैं। एक नल है तौ वहिमा पानी नहीं मिलत आय। दिन भर लाइन मा लागै का पड़त हैं।

सीमा बताइस है कि पानी आवै लागी तौ जानवरन के खातिर बहुते आराम होई जई। हमहूं का थोड़ी से राहत मिल जई। यहै से तौ पइसा जमा किन्हें हन। पानी नहाये का, पिये का, जानवरन के पिये कपड़ा धोवै का, सबै का तौ पानी लागत है। कम से कम पन्द्रह मडई पइसा दई दिहिन हैं। पै अबै तक पानी नहीं आवै। नल मा भीड़ होय के कारन लड़ाई होई जात है। भगवानदीन से कहित है कि नल का परसों बनवा देहूं।

बिंदी का कहब है कि पूरे गांव मा एकै नल सरकारी है। पानी नहीं मिलत आय। एक नल से पच्चीस तीस मडई पानी भरत हैं। सजासुरी बताइस कि पानी नहीं देत आय तौ का करी? पानी खातिर बहुते परेशानी है या प्रधान न तौ नल बनवावै अउर न तौ सप्लाई का पानी छोडवावै। पानी खातिर दिनभर लड़का-लड़की लाग रहत हैं। व नल है तौ मडई कहत है कि नल मा ताला लगा देई।

आपरेटर भगवानदीन का कहब है कि पइसा जमा किन्हें हौं तौ पइसा लई लेव। पन्द्रह सौ रुपिया लीन है तौ वहिमा स्टाम्प अउर कागज लाग हैं। इनतान के बात तौ नहीं भे की फ्री मा पइसा लाग हैं।

जेई पवन कुमार का कहब है कि मोटर पम्प से बोर बेल टूट हैं तौ वहिका निकर वाइत है जेइसे निकर जई, तौ सप्लाई का पानी चालू होई जई। पाइप लीक करत है यहै से नहीं चालू कीन गा। आज ठीक होते चालू होई जई।  

रिपोर्टर: शिवदेवी

Published on Apr 28, 2018