बरसात में फसल बर्बाद

lucknow
बरसात से बर्बाद फसलें

जिला फैजाबाद, अम्बेडकर नगर। यहां कई ब्लाकों के गांवों की फसलें बारिश से बर्बाद हो गईं हैं।
जिला अम्बेडकर नगर, ब्लाक तारुन। पारा गांव के वीरभानू एवं कलाऊ का कहना है कि तेज़ हवा और बारिश से सरसों गिरकर खराब हो गई। आलू में पानी लग जाने से सड़ गया। जियाराम का कहना है कि इस बार जल्दी सरसों बोए थे कि जल्दी फसल तैयार हो जाएगी, तो महंगा तेल नहीं खरीदना पड़ेगा। लेकिन बरसात ने सरसों बिल्कुल चैपट कर दिया। पूरा ब्लाक के गांव तिहुरा के दुखदेव, रामजीत का कहना है कि सरसों की खेती बर्बाद हो गई। गेहूं भी पीला पड़ गया।
जिला अम्बेडकर नगर, ब्लाक कटेहरी। यहां के गांव करमपुर, डसरा, नरहरिया, बैजपुर, गोपालपुर में बरसात से किसानों की कई बीघे फसल बर्बाद हो गई है। रामकिशोर, पांचूराम ने बताया कि 16 जनवरी 2014 को हुई दिन रात बरसात ने खेती बर्बाद कर दी है। नहरिया के मोहम्मद रजा ने बताया कि पांच बीघा आलू यह सोचकर बोए थे कि अच्छी कमाई हो जाएगी। लेकिन कमाई तो छोड़ो लागत भी गई।
जिला अम्बेडकर नगर, ब्लाक भीटी। यहां के गांव पाण्डेय पैकौली के चन्द्रमणि पाण्डेय ने बताया कि चार बीघा सरसों की फसल पानी में बह गई। वहीं रजपलिया की मुन्नीलाल मौर्या, राममिलन प्रहलाद बताया कि सब्ज़ी की खेती ही कमाई का ज़रिया है, पर इस बार तो सब पानी ले गया। रामदास लेखपाल ने बताया कि सब ज़िलों की फसलों का यही हाल है। लेकिन अभी तक फसल नुकसान के लिए कोई सुविधा नहीं आई है।