बरसात की उबेरी में भी कादो

Photo-0297
चापाकल पर जमा पानी

जिला शिवहर, प्रखण्ड तरियानी, गांव सलेमपुर, वार्ड नम्बर छौ। इहां पुरे गांव में नाली न हई। जई कारण सड़क से लेके लोग के दूरा पर पानी लगल हई।
इहां के गंगा देवी, रूपा देवी, श्रवण कुमार कहलथिन कि इहां त रोड पर पानी बहई छई। जब सुख-रूख रहई छई त लोग के दूरा दरवाजा पर पानी लबल रहई छई। पानी में सोच सकई छी कि केतना पानी तहई छई? सड़क पर लोग के घुट्ठी भर पानी हेल के जाय परई छई। जब 2010 में इहां के सड़क बनल तब हम सब रोक लगयले रही की पहिले रोड भरावे, नाला बनावे तब रोड बनावे देब। लेकिन न रोड भरायल न नाली बनल। खाली पी.सी.सी. बना देलक। इ सड़क कोन काम के जब सड़क के उपर पानी रहई छई। मुखिया नाजो खातून के पति अमिन अंसारी कहलथिन कि हम कार्ययोजना में डालले छी।
प्रखण्ड विकास पदाधिकारी विनय कुमार सरस कहलथिन कि नाली बनावे के लेल मुखिया अगर आम सभा में कार्ययोजना में डालले होईथिन तब चतुर्थ वित्त आयोग योजना के तहत हर पंचायत में रूपईया गेल हई उ बनवा सकई छथिन।