‘बनारस? आह! वन्डरफुल।’

pankaj bery‘मालगुडी डेज’, ‘गुल गुलशन गुलफाम’ और ‘स्वाभिमान’ जैसे धारावाहिकों से मशहूर हुए पंकज बैरी ‘इश्क मलंग’ नाम की फिल्म की शूटिंग के लिए बनारस आए। उनसे यहां के अस्सी घाट पर खबर लहरिया के पत्रकारों ने बातचीत की।
सवाल – आप अपने बारे में पाठकों को कुछ बताएगें?
जवाब – मंै एक व्यवसायिक परिवार से हूं। हम पांच भाई हैं, जिनमें मैं सबसे छोटा हूं। मुझे बचपन से ही एक्टिंग का शौक था। ड्रामा विषय से एम.ए. करने के बाद मैंने ‘डिपार्टमेन्ट आॅफ इण्डियन थिएटर’ में डिप्लोमा किया।
सवाल – मुम्बई आने के बाद का सफर कैसा रहा?
जवाब – जेब में पन्द्रह सौ रूपए लिए अपना लक और टैलेन्ट लेकर मुम्बई आया था। लगातार मेहनत करते रहने से कामयाबी मिली। तमस से मेरी सफलता शुरू हुई उसके बाद गुल गुलशन गुलफाम, इश्क आफ इण्डिया, माल गुड़ीडेज आदि में काम किया।
सवाल – फिल्म इंडस्ट्री में कैसा बदलाव महसूस करते हैं आप?
जवाब – आज माडर्न ज़माना है। उस समय मनोरंजन के साथ साथ एक सीख भी मिलती थी। लेकिन आज की कहानियों में फैशन परस्ती और हल्का फुल्का रोमांस ही नज़र आता है।
सवाल – एक आखिरी सवाल, आपको बनारस कैसा लगा? यहां के लोगों से आप कुछ कहना चाहेंगे?
जवाब – बनारस आह! वन्डरफुल। यहां के लोग बड़े मदद करने वाले हैं। इश्क मलंग एक रोमांच से भरी लव स्टोरी है। आप लोग भी इस फिल्म को ज़रूर देखने आइएगा।