फसल खराब हुवय से बढ़ी समस्या

ganna finalफैजाबाद मा फसल के बारे मा यहि समय स्थिति बहुत खराब बाय। एक तरफ बारिस से आलू, चना जैसेन फसल बर्वाद भै तौ दूसरी तरफ गन्ना न बिकै के कारण सुखात बाय।
पर्ची न मिलै से लगभग पचासौं मनई कै गन्ना लगभग दुई महीना से सुखात बाय। किसानन कै कहब बाय कि अगर गन्ना कै छिलाई न भै हुवत तौ गेहूं न बोय जात अउर आगे कै समस्या बढि़ जात। मील गन्ना नाय लियत बाहरी गन्ना लियै के कारण सबकै गन्ना सुखात बाय। अउर न ही क्रेषर वाले यहि समय गन्ना लियत अहैं कि सुखाय से अच्छा सस्ते मा क्रेषर पै दै दियै। एक तरफ यस फसल कै बर्बादी दूसरी तरफ एक हप्ता पहले दुई दिन लगातार बारिष से बालू, चना, सरसो, मटर कै फसल खराब होइगै। जवन खेत खलार मा रहे उनकै तौ ऐदम हुवब मुष्किल बाय। जे किसान बारिष से पहले सिंचाई कै देहे रहे उनकै ज्यादा खराब भै बाय।
तारुन ब्लाक के विजैनपुर सजहरा के रामप्रगट कै कहब बाय कि दुई बीघा गेहूं खलार मा रहा जवन बारिस से भरा बाय लगभग दस दिन मा सूखे तब तक फसल गलि जाये। वहीं मया ब्लाक के रामउजागिर कै कहब बाय कि फसल खराब होय जाए के कारण बहुत समस्या बाय। आलू मटर सरसो कै पौधा मरै लाग बाय। लेखपाल केषवराम गुप्ता कै कहब बाय कि फसल हर एक किसान कै खराब भै बाय लकिन कउनौ मुआवजा नाय मिलत बाय।