प्रधान से करैं कालोनी के मांग

kalony-barymenpur-2
बरईमानपुर के मड़ई बतावत समस्या

जिला बांदा। सरकार गरीब अउर असहाय मड़इन खातिर इन्द्रा आवास अउर लोहिया आवास योजना चला के उनका हित सोचिस है, पै आवासन के पात्र मड़ई आज भी योजना का लाभ पावैं खातिर भटकत हैं ।
महुआ ब्लाक, गांव बरईमानपुर। संजय, राजेश अउर राकेश बतावत है कि हर साल बरसात के समय हमार घर गिर जात है। प्रधान से कालोनी मांगत हन तौ दस हजार रूपिया मांगत है। हम गरीब मड़ई यतना रूपिया कहां से देन। प्रधान अमृत लाल गिरी का लड़का रणधीर कहत है कि या साल कालोनी आई हैं तौ बंट गई है। जब दुबारा अइहैं तौ दीन जइहैं। महुआ ब्लाक के बाबू जय किशोर कहत हैं कि कालोनी मा रूपिया नहीं लीन जात। अगर प्रधान रूपिया लेत हैं तौ मड़ई हमसे शिकायत करैं।
तिन्दवारी ब्लाक के गांव पलरा का बोडा वर्मा कहत कि मोर मेहरिया दशोदा के नाम कालोनी आई रहै। जनवरी 2014 मा मेहरिया के मउत होइगे यहिसे प्रधान कालोनी नहीं देत आय। रनिया, गंगा दीन अउर राजकरन कहत है कि हम लोग भी गरीब मड़ई हन। झोपड़ी अउर कच्चे घरन मा बसर करत हन। पंचायत मित्र छेदिया कहत है कि प्रधान अपने परचित के मड़इन का कालोनी देत है। तिन्दवारी बी.डी.ओ. ओ.पी. शुक्ला कहत है कि पलरा मा 59 कालोनी आई हैं। 2014 के जनवरी, फरवरी महीना मा अगर मड़ई का नहीं मिली तौ जांच कीन जई। तारा गांव का मजरा बजरंगी डेरा का राम आसरे अउर ऊषा कहत है कि हमरे गांव का प्रधान भी कालोनी नहीं दिहिस। प्रधान राम बहादुर कहत है कि दलितन का कालोनी आई हैं।