पूर कर्वी के ए.टी.एम. जवाब दइ देत हवैं

taja -2जिला चित्रकूट, ब्लाक कर्वी, कस्बा कर्वी। हिंया आठ ए.टी.एम.हवैं। उंई ए.टी.एम के हालत नींक नहीं रहत आय। आय दिन कत्तौ ए.टी.एम.मा रुपिया नहीं रहत तौ कत्तौ ए.टी.एम. के बटन खराब रहत हवैं। यहिसे मड़ई रुपिया निकारैं खातिर ए.टी.एम. से दुसरे ए.टी.एम. फिरत हवैं, पै पूर कर्वी के ए.टी.एम. जवाब दइ देत हवैं। या समस्या से रोज के लगभग हजारन मड़ई जूझत हवैं।
कर्वी मुहल्ला भरतपुरी के किरन का कहब हवै कि लखनऊ से मोर महतारी दुइ हजार रुपिया खाता मा डारिसय रहै। वा रुपिया निकारै खातिर 18 अप्रैल का बैंक आफ इण्डिया के ए.टी.एम. गें रहौं तौ पता लाग कि वा ए.टी.एम.मा रुपिया चार दिन से नहीं आय। रुपिया न निकार पावैं से मैं आपन इलाज नहीं करा पाये हौ। काहे से कि मोहिका उल्टी आवत रहैं।
पहाड़ी ब्लाक,गांव सगवारा के के दया अउर रज्जू कहिन कि कर्वी से इलाहाबाद जाये का रहै। यहिसे किराया खातिर रुपिया निकारैं का रहै। सोचत रहेन कि इलाहाबाद के बाजार से कपड़ा खरीद के अपने परिवार वालेन का लावैं का रहै। पांच हजार रुपिया यूको बैंक या फेर ओरिएंटल बैंक के ए.टी.एम. से रुपिया नहीं निकरा यहिसे कर्वी से पहाड़ी यहिके बाद फेर अपने गांव जाये का परा। यहिसे हमार किराया भाड़ा लाग ग,पै काम कुछौ नहीं भा आय। का फायदा इनतान के ए.टी.एम. होय से।
कर्वी बंैक आफ इण्डिया के मैनेजर नवीन कुमार का कहब हवै कि इनतान के समस्या ए.टी.एम मा आवत हवै तौ जांच कराई जई।