पुलिस के दबाव मा भे पंचायत

mahokhar jamuni purvaजिला बांदा, ब्लाक बड़ेाखर खुर्द, गांव महोखर का मजरा जमुनी पुरवा। हेंया के लड़की रानी के मउत वहिके ससुराल मा 6 अप्रैल का सुबेरे सात बजे होइगे। 7 अप्रैल का पोस्टमार्टम भा है।
रानी के भाई गोरेलाल का कहब है-“रानी के शादी तिंदवारी ब्लाक के भिरौड़ा गांव मा राजकिशोर के साथै कीने रहन। जबै रानी के मउत का पता चला तौ वहिके ससुराल गयेंन। पुलिस होंआ पहिले से मौजूद रहै। काहे से ससुराल वाले थाना मा पचास हजार रूपिया पहिले से ही दई दिहिन रहैं। पुलिस दबाव बना के पंचनामा भर के लास पोस्टमार्टम का भेज दिहिस है। ”
रानी के मामी का आरोप है कि लड़की के तेरही का इंतजार है। कारवाही तौ करबे ही। काहे से पहिले से भी ससुराल वाले मारपीट करत रहैं। कइयौ दरकी समझौता कइके भेज दीन गा रहै। अब तौ जान ही लई लिहिन।”
रानी का ननदोई भूपत यादव कहत है कि पति पत्नी के बीच लड़ाई भे है, यहिसे वा मर गे है।
तिन्दवारी थाना का छोट दरोगा सुरेन्द्र सिंह कहिन कि जबै हम जांच करैं गये रहन तौ गांव मा पंचायत भे। पंचायत मा तय भा कि लड़का के नाम आधी जमीन अउर लड़की खातिर एक लाख रूपिया दीन जई। यहिके खातिर अट्ठाइस दिन का समय ससुराल वालेन का दीन गा है। या मारे रपट नहीं लिख गे है।