पिछड़ी जातियन, अनुसूचित, शामिल के मांग

arachn ka dhrna banda pez copyजिला बांदा। पिछ़ड़ी जातियन का अनुसूचित जाति मा शामिल करैं का लइके राष्ट्रीय दलित पिछड़ा वर्ग वेलफेयर सोसाइटी कलेक्ट्रेट मा 20 मई का नारेबाजी करत प्रदर्शन करिन। साथै प्रधानमंत्री का
सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी के जरिए भेजैं का दिहिन। जेहिमा बताइस कि शिल्पकार, धुरिया, कुम्हार, नाई बढ़ई अउर चौरसिया जइसे पिछड़ी जाति का 15-15 प्रतिशत अलग आरक्षण दीन जाय। प्रधानमंत्री का दीन गे ज्ञापन मा वेलफेयर सोसायटी कहिस कि उत्तर प्रदेश मा अनुसूचित जाति मा शामिल जातियन का जाति प्रमाण पत्र भी दीन जाय। जेहिसे उनका सरकारी योजनन का लाभ मिल सकै। ज्ञापन दें मा केशव प्रजापति, अच्छेलाल निषाद, धर्मेन्द्र प्रजापति, छत्रपाल सरिता शामिल रहैं। उंई बताइन कि पिछले दशक से पिछड़ी जाति का अनुसूचित जाति मा नहीं शामिल नहीं कीन गा। जबकि कइयौ संगठन राजधानी मा प्रदर्शन का विरोध जताइन रहैं कि 17 जातियन का पिछड़े वर्ग का शामिल कीन जाय। यहिके खातिर 15 फरवरी 2013 का केन्द्र सरकार का प्रस्ताव प्रेषित कीन गा रहै। जेहिमा अबै तक कारवाही नहीं भे।

रिपोर्टर – शिवदेवी