पानी के सप्लाई नहीं होत

पानी खातिर ड़ी.एम.का दिहिन दरखास
पानी खातिर ड़ी.एम.का दिहिन दरखास

जिला बांदा। शहर का नोनिया मोहाल। हेंया के पचीसन मेहरिया 1 अगस्त 2013 का बांदा डी.एम. का दरखास दें आई रहैं। काहे से अनके मोहल्ला मा पांच महीना से पानी सप्लाई नहीं होत आय। एक हैण्डपम्प है वहौ एक महीना से बिगड़ा है।
मोहल्ला के सुमित्रा, किरन अउर हीरामनी का कहब है कि बीस घर का पानी के बहुतै परेशानी है। रामप्यारी अउर बबिता कहिन कि बारिश का पानी पियैं अउर खाना बनावैं खातिर डिब्बन मा भर के धई राखित है। हमार जानवर दुई-दुई दिन पियासे बांधे रहत हैं। जहरी कहिस कि मोर बच्चा दुई दिन से नहाये निहाय। इनतान कपड़ा गन्धात हैं कि रही नहीं जात आय। पहिले हमार मनसवा डी.एम. का दरखास दें आये रहैं तौ डी.एम. डांट के भगा दिहिस है अब हम आये हन। अगर हमार सुनवाई न होई तौ हम आगे भी दरखास देब।
जल संस्थान के सहायक लिपिक ओमप्रकाश कहत है कि कुछ दिन के बाद हैण्डपम्प बनवा दीन जई। सप्लाई पानी खातिर जल निगम से बात करैं के कोशिश कीन गे, पै बात नहीं होई पाई आय।