पत्रकार की हत्या

शाहजहांपुर। जिले में 8 जून को एक पत्रकार की हत्या कर दी गई। उनकी हत्या में समाजवादी पार्टी के नेता एवं कल्याण मंत्री राममूर्ति वर्मा का नाम सामने आ रहा है।
राममूर्ति वर्मा और अन्य पांच लोगों के खिलाफ एफ.आई.आर दर्ज हुई है। मरने वाला पत्रकार गजेंद्र सिंह ने राममूर्ति के खिलाफ कई खबरें लिखी थीं। जिस कारण उसे कई बार मंत्री की तरफ से धमकियां भी मिल चुकी थीं। मंत्री ने पत्रकार के खिलाफ लूट, अपहरण का झूठा मुकदमा लिखवा दिया।
माना जा रहा है कि 1 जून को इंस्पेक्टर गजेंद्र सिंह ने पुलिस के साथ पत्रकार के घर में दबिश डाली। पहले उसके साथ मारपीट की। बाद में उसे पेट्रोल डालकर जला दिया। इसमें पत्रकार बुरी तरह से जल गया। 8 जून को उसकी मौत अस्पताल में हो गई।