पढ़ाई में करी धोखा धड़ी

तहसील में रानी ओर बाप हरिलाल
तहसील में रानी ओर बाप हरिलाल

जिला महोबा, ब्लाक कबरई, गांव सिंघनपुर बघारी। एते की रानी आपन घर में लड़ाई कर कक्षा 12 में प्राइवेट पढ़त हती, पे स्कूल के मास्टर ने न तो प्रवेश पत्र दओ ओर न परीक्षा दिवाये हे। जीसे ऊ परेशान होके 3 जून 2014 को तहसील दिवस में एस.डी.एम खा दरखास दई हे।
रानी ने बताओ कि में गांव के ही स्कूल में पढ़त हती, जोन कबरई के बद्री सिंह बालिका इण्टर कालेज से जुड़ो हे। मेने कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा खरेला में दई हती। जोन अभे तक मास्टर रामदयाल ने रिजल्ट नई दओ। कक्षा 11 में मेंने ओतई पढ़ी हो ओर पेपर भी दये हो। कक्षा 12 की तैयारी भी मेने करी हे। जीमें मास्टर मोसे हर महीना 150 रूपइया फीस लेत रहो हे। ऊने कक्षा 12 को न प्रवेश पत्र दओ हे ओर न परीक्षा दिवाये हे। जीसे मोओ रूपइया के साथे समय भी बरबाद भओ हे।
कक्षा 12 में मोये साथे पढ़े वाली बिटिया खा लैपटाप ओर कन्या विद्याधन मिलो हे। मोये मताई बाप मजदूरी करके पढ़ाउत हते। ऊमें भी मोये साथे धोखाधड़ी भई हे। अब में का करहों। मोई ऊ मास्टर ने जिन्दगी बरबाद कर दई। कक्षा दस को रिजल्ट नई देत हे। जीसे में दुबारा से दूसरे स्कूल में पढ़ सकों। अगर मांगत हो तो कहत हे कि मोये पास नइयां जो कछु तोये करने हो तो करलें। ईखी दरखास मेने 11 मार्च 2014 खा डी.एम. ओर 3 जून 2014 तहसील दिवस में एस.डी.एम. खा दई हे। मोई बारहवीं की परीक्षा दिवाई जाये।
मास्टर रामदयाल से बात करे की कोशिश करी तो ऊने बात करे से मना कर दओ।