नियाव खातिर अनशन

अनशन मा विमला
अनशन मा विमला

जिला बांदा, ब्लाक नरैनी, गांव तेरा ब। हेंया के विमला परमार का फरवरी 2014 मा तुर्रा पुल के पास आटो से सूटकेश चोरी होई गा रहै। अतर्रा थाने के पुलिस कारवाही नहीं करिस। या मारे 11 जून 2014 से अशोक लाट चैराहे मा विमला परमार अनशन कीने है।
विमला परमार कहिस-“मोर मनसवा फौज मा रहा है। फरवरी के महीना मा मैं अतर्रा से आशीष के आटो मा तेरा जात रहौं। आटो वाला मोर सूटकेश ऊपर रख दिहिस अउर ऊपर कूछ लड़का बइठ रहैं। तुर्रा पुल के पास ताला तोड़ के सारा सामान निकार लइगे अउर आटो रोका के भाग गे। वा सूटकेश मा पांच लाख का जेवर एक रिवाल्वर 20 हजार रूपिया रहै। हम डाªइवर से गांव जाके पूंछा कि तै ऊंई लड़कन का जानत हा, तौ वा कहत रहा हां मैं जानत हौं। हम वहै समय उनके खिलाफ एफ.आई.आर. अतर्रा थाना मा कीन है। जबै पुलिस ड्राइवर का पकड़ के लाई तौ पूंछे मा बयान दिहिस कि मैं नहीं जानत हौं तौ थाने वाले वहिका छोड़ दिहिन। उंई कउनौ कारवाही नहीं करिन आय। यहिसे हम अतर्रा पुलिस के खिलाफ अनशन मा बइठ हन।
अतर्रा थाना का मुंशी सत्य देव तिवारी का कहब है कि ऊंई घाटमपुर से टेªन मा आय हंै। रास्ता मा सामान निकरा है। हम पुलिस वालेन से कहिके ड्राइवर का पकड़ा है। वहिका मारा भी है, पै वा कहत मैं ऊंई लड़कन का नहीं जानत हांै। चोरी का मुकदमा भी लाग है।