निकरी जात उमर नई मिल पेंशन

bradha-pensan-gao-se-khabarजिला महोबा, ब्लाक चरखारी, ओर पनवाड़ी। ई गांवन मे आज भी ओरते वृद्धा पेंशन के लाने भटकत हे। गांव मे फारम भरे के बाद भी पेंशन नई आउत हे। प्रधान भी कोनऊ ध्यान नई देत हे।
ब्लाक पनवाड़ी, गांव नैपुरा की राजाबाई कहत हे की मोओ आदमी जोघा सात साल पेहले खत्म हो गओ हतो। तीन साल मोये पेंशन मिली हे। एक साल से बन्द हे।
अवधरानी बताउत हे मोये पेहले रानी लक्ष्मी बाई ओर माहामाया पेंशन मिलत हती। ऊखे बाद पता नई कीने नाम कटवा दओ हे। हम गरीब आदमी एक-एक रूपइया खा तरसत हे।
मुकुन्दी कहत हे की मोई उमर अस्सी साल हे। मोये चार दइयां वृद्धा पेंशन मिलत हती। ईखे बाद बन्द हो गई हे। मे अकेले एते राहत हों लड़का बहू दिल्ली मे रहत हे। प्रधान कमलेश देवी को आदमी जयहिन्द बताउत हे की मेने ता करो हे। ऊं आदमियन खा आपन आय प्रमाण पत्र बनवा के सामाजकल्याण विभाग मे जमा करने परहे।
ब्लाक चरखारी, ग्राम पंचायत फतेपुर मजरा भैसारी को कमलापत राजपूत कहत हे की मोये दो लड़का हे। बड़ो लड़का रामऔतार दिमाग से पागल हे। ऊखी ओरत मर गई हे। ऊखे तीन छोट्-छोट् बच्चा हे। बच्चन की देख-रेख ओर भरण्र पोषण भी मे करत हों। मोई उमर लगभग सत्तर साल हो गई हे। अभे तक कोनऊ सरकारी योजना को लाभ नई मिलत हे। में सोचत हों की अगर पेंशन मिलन लगहे तो घर के खर्चा मे कछू आसानी हो जेहे।
प्रधान रामकृपाल कहत हे की बीस दिन पेहले समाजवादी पेंशन ओर आठ वृद्धा पेंशन के फारम भरे हते। बाकी लोगन की आय प्रमाण पत्र नईं बनो हे। जीसे कछू आदमियन के फारम नई भरे हे।

रिपोर्टर – सुरेखा राजपूत, सरोज सैनी