नाली खड़ण्जा बनै के मांग

गांव के भीतर का रास्ता
गांव के भीतर का रास्ता

जिला बांदा, ब्लाक तिन्दवारी का गांव परसौड़ा का मजरा बरेठीकला अउर बड़ोखर खुर्द ब्लाक का गांव तिन्दवारा। इं दूनौ गांवन के मड़ई नाली अउर खड़ण्जा बनैं के मांग प्रधान अउर सचिव से करिन हैं, पै अबै तक कउनौ सुनवाई निहाय।
बरेठीकला का कमतू, शिवकुमार, अंशू बताइन कि उंई दस साल से बारह महीना कांदौ भरी रास्ता से निकरैं का मजबूर हैं। वार्ड नम्बर आठ मा इनतान के गन्दगी है कि लागत है बाहर न निकरै, पै मजबूरी मा निकरै का परत है। प्रधान से खड़न्जा बनवावैं के मांग कइयौ दरकी कीन गे है, पै कउनौ सुनवाई निहाय। काहे से या रास्ता से हजारन मड़ई निकरत हैं।
प्रधान दर्शनलाल का कहब है कि मैं नाली खड़ण्जा बनै खातिर तिन्दवारी ब्लाक मा प्रस्ताव बना के भेज दीन हौं। बजट पास होय के बाद खड़ण्जा बनवा दीन जई।
यहिनतान तिन्दवारा गांव का कलुवा और रामबहोरी का कहब है कि दलित बस्ती का डेढ़ सौ मीटर खड़ण्जा 1996 से अधूरा परा है। खड़ण्जा बनैं के मांग कइयौ दरकी प्रधान से मांग कीन है, पै वा नहीं सुनत आय। कल्ली कहिस कि वा रास्ता मा सौ घर परत हैं। जबै से प्रधान वोट लइगा तबै से हमार बस्ती नहीं आवा आय। यहिसे खड़ण्जा नहीं बना आय। मैं जिला पंचायत से सी.सी. सड़क बनै के मांग करे हौं तौ अब महीना भर बनवा दीन जई।