नया बजट के हई इंतजार

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड, पंचायत बथनाहा पूर्वी, गांव चैधरी टोला, वार्ड नम्बर पांच। उहां आंगनवाड़ी भवन बनला लगभग दु साल हो गेलई। लेकिन अभी केन्द्र वार्ड नम्बर चार में चल रहलहई। जेकर बजट पांच लाख हई।
इहां के लोग सत्येन्द्र साह, उर्मिला देवी, गायत्री देवी इ सब लोग कहलथिन कि इ आंगनवाड़ी केन्द्र के बनला दु साल से ज्यादा दिन हो गेलई। लेकिन पढ़ाई कहिया से होतई। अभी कोई पता न हई। केन्द्र भाड़ा के मकान में चल रहल हई अउर भवन तईयार हई। लेकिन अभी गेट न लागल हई। हर घर में केन्द्र पर पढ़ेवाला बच्चा चार पांच हई अउर सब बच्चा बिखर रहल हई। सेविका निलम देवी कहलथिन कि हमरा जहा आदेश होतई ताहा पढ़वई। मुखिया के पति रंजन झा कहलथिन कि भवन तईयार हई। सब काम हो गेल कुछ ही काम बाकी हई। जे रूपईया कम जाये के कारण काम बन्द हई। प्रमुख गीता देवी कहलथिन कि पांच लाख वाला बजट से भवन बनईत रहलई। जेईमें रूपईया के अनुसार काम ज्यादा हो गेल हई अउर पैसा घट गेलई जेई कारण काम अधूरा हई। लेकिन एकर छौ लाख रूपईया बजट हई ओही के इंतजार हई। उ मिल जतई त भवन बन जतई।

kasba - anaaj godaamअनाज गोदाम तईयार
जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड रीगा परिसर में अनाज गोदाम बनलई। जेईमें पांच सौ एम.टी. टन अनाज रखल जतई।
ठिकदार मनोज सिंह कहलथिन कि अनाज गोदाम ऐई के लेल बनल कि अनाज खुला जगह में खराब होईत रहलई। अब गोदाम बन गेल हई त अनाज खराब न होतई। ऐई के बने के समय छौ महीना रहई। जे चार महीना में बन के तईयार हो गेलई।
जेकर बजट लगभग उनचालीस लाख हई जे भवन निर्माण निगम लिमिटेड विभाग में बनलईय।