नयन बिना पंथ भारी

 अंत्योदय से वंचित अंधा आदमी
अंत्योदय से वंचित अंधा आदमी

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड सोनबरसा, पंचायत भलूआहा, गांव रामनगरा। उहां वार्ड नम्बर ग्यारह के गणेश पासवान अंधा छथिन। जिनका पहिले अंत्योदय से अनाज मिलईत रहलई। लेकिन फरवरी 2014 से उनका राशन न मिल रहल हई। जेई कारण उनका घर परिवार चलावे में दिक्कत हो रहल हई।
गणेश पासवान कहलथिन कि हमरा परिवार में कोनो कमाये वाला न हई। हम अंधा छी। बहुत दिन से हमरा अंत्योदय के द्वारा अनाज मिलईत रहलई लेकिन 2014 में हमरा परिवार के सब सदस्य अउर हमरा नाम से राशन-कार्ड बन के अलई। तब डीलर कहलथिन कि तोरा अंत्येदय से अनाज मिलतई। तु अपन राशन-कार्ड हमरा पास जमा कर दा। त हम कर देली लेकिन हमरा अनाज न मिल रहल हय। केतना बेर प्रखण्ड के जनता दरवार में गेली। लेकिन कहां मिलईय। हम अंधा आदमी कहां कमाउ? मांग के लबई छी त परिवार चलबई छी। डीलर किशोरी राय कहलथिन कि कार्ड जमा करावा लेली कारण कि उनका नाम से दु-दु गो कार्ड न रह सकई छई। अब अनाज देबई। जेई कारण कार्ड जमा करवा लेले रहली। उनका नाम से उठाव न करईत रहली। कारण की उनकर नाम भूल गेली।
प्रखण्ड विकास पदाधिकारी रितेश कुमार कहलथिन कि अगर अंधा के राशन न मिल रहल हई त उ हमरा आवेदन देले होईथिन त ओकरा बाद जांच कर के राशन दिलबई।