नई मिलत वृद्धा पेंशन, निकरी जात उमर

134. Kulpahad - Vridhdha Pension webजिला महोबा, ब्लाक जैतपुर, कस्बा कुलपहाड़, मोहल्ला टोरियापुरा। ई मोहल्ला के ओरतन खा वृद्धा पेंशन नई मिलत हे। जीसे नगर पंचायत ओर तहसील के चक्कर लगाउत हे।

सत्तर साल की पुनिया बताउत हे कि हम गरीबन खा वृद्धा पेंशन नई मिलत हे। पेंशन के लाने कभऊं नगर पंचायत तो कभऊं तहसील के चक्कर लगाउत हे। हम न तो इत्ते पढ़े हे ओर न हाथ में रूपइया रहत हे कि कहूं जा सकन। जो जेसो बता देत हे तो मान जात हें। रामप्यारी ओर गिरजारानी कहत हे कि हमाई इत्ती उमर हो गई हे कि रात में दिखात तक नइयां। हाथ-पांव भी अब काम नई करत हे। लड़का हे तो ऊ भी आपन परिवार लेके बाहर रहत हे। कोनऊ खर्चा तक नई देत हे। रूपइया न होंय के करन एसे बेठे रहत हे। बिमार हो जात हे कोनऊ इलाज तक नई कराउत हे। गेंदारानी कहत हे कि हमाये मोहल्ला में कछू जने खा पेंशन मिलत हे तो लड़का भी नई सुनत हे। कहत हे कि सबखा पेंशन मिलत हे ते भी बनवा लेय। हमाई बुढ़ापे में कोनऊ नई सुनत हे।

कुलपहाड़ नगर पंचायत के अधिकारी कहत हे कि जोन हमाये एते फारम आउत हे, ऊखे तुरतई समाज कल्याण विभाग भेज देत हे।