धूप का कहर पौशाला के तलाश

वार्ड सदस्य बतावत पौशाला न धरे के समस्या
वार्ड सदस्य बतावत पौशाला न धरे के समस्या

जिला बांदा, ब्लाक नरैनी, कस्बा अतर्रा। हेंया पानी के बहुतै मारा मारी है। इनतान के गर्मी अउर धूप मा हाट बाजार करैं आय मड़ई पियासन के मारे पौशाला तलाशत हैं, पै यतने बड़े कस्बा मा कतौ पौशाला निहाय।
अतर्रा कस्बा के विसण्ड़ा रोड मा रहै वाला बीरबल कहत है कि मैं हेंया दस साल से देखत हौं कि कतौ पौशाला नहीं रखवा जात। मड़ई पियासा है, तौ दुई रूपिया का पानी पाउच खरीद के पियत है। वार्ड सदस्य पुष्पा, छेदी, राजकिशोर अउर कुन्ती बतावत है, कि इनतान के गर्मी मा बूंद-बूंद पानी के दिक्कत है। दूर दराज के गांवन से आवै जाय वाले मड़ई पौशाला ढूढ़त फिरत हैं। 27 मई 2014 का चेयरमैन साथै हमार मीटिंग रहै। वा मीटिंग मा चेयरमैन हमैं 2014-15 का प्रस्ताव बना के दसखत करैं का कहिस है। हम दसखत नहीं कीन आय। काहे से चेयरमैन काम नहीं करावत। चेयरमैन कहिस है कि मैं अतर्रा कस्बा मा व्यवस्था मिला।
चेयरमैन पुष्पा जाटव कहिस कि कस्बा के भीतर पानी पौशाला धरे है। चैराहन मा पानी के सुविधा निहाय तौ करावा जई।