धान केन्द्र खोलने की मांग

taza final 1फैजाबाद में कई ऐसे ब्लाक हैं जहां धान के फसल की कटाई तो हो गई लेकिन अभी तक धान केन्द्र नहीं खुला है। लोग इधर उधर सस्ते दाम में बिचैलिये के हाथ बेंचने को मजबूर हैं। और उनको अच्छा पैसा भी नहीं मिल पाता।
धान केन्द्र हर ब्लाक में होता है वहां लोग धान बेंचते हैं और उनको अच्छा मूल्य सरकारी रेट पर मिलता है। धान केन्द्र में सिर्फ लोगो से खरीदा जाता है। और वहां से सरकारी गोदाम में जाता है। वहां लोग बेंच तो सकते है लेकिन खरीद नहीं सकते। जिनके पास ज्यादा खेती बारी होती है वो दस से बीस कुन्तल तक बेंचता है। और वो छोटी मोटी दुकानों मे सस्ते दामों में बेचने से बचते है।
फैजाबाद के तारुन ब्लाक में अभी सिर्फ दो ही धान केन्द्र खुले हैं लोगो की मांग है कि ब्लाक पर भी खोला जाए। फसल के अनुसार धान केन्द्र खुलता है। फसल अच्छी होती है तो एक ब्लाक में दस बारह केन्द्र भी खुलने का आदेष है। अगर यह किसानो के लिए सरकारी सुबिधा है तो कटाई के तुरन्त बाद केन्द्र खुल जाने चाहिए। नहींे तो किसानो को, खासकर छोटे किसानो का बहुत नुकसान होता है।