दहेज हत्या को लिख गओ मुकदमा

प्रभा के मायके वाले
प्रभा के मायके वाले

जिला महोबा ब्लाक जैतपुर गांव सतारी। एते के 22 साल की ओरत प्रभा की मोत 22 अप्रैल खा हो गई हे। मायके वाले दहेज कम मिले से जहर खबा के मारे को आरोप लगाउत हे। पुलिस ने लाश को पंचनामा भर पोस्टमार्टम खा भेज दई हे।

प्रभा के बाप राधेश्याम ने बताओ कि प्रभा के शादी 2013 में मुकेश के साथे करी हती। एक साल तक प्रभा खा ससुराल वालेन ने जीेक से राखो हे। ऊखे बाद पचास हजार रूपइया ओर मोटर साइकिल मांगत हते। कहत हते की हमाये जमीन हे ओर दिल्ली में प्लाट हे। बिटिया घर में बताउत हती। हम गरीब आदमी रोज की बनी मजदूरी पेट चलाउत हते तो किते से इत्तो दहेज दे पाते। एई से 22 मई खा ससुराल वालेन ने पेहले कछू ख्बा दओ हे। बाद में मारपीट भी करी हे। काये से प्रभा की हालत खराब होंय, पे हमें जानकारी नई दई। जभे प्रभा को बोल बन्द हो गओ ओर कुलपहाड़ अस्पताल से डाक्टर ने महोबा जिला अस्पताल खा रिफर कर दओ हे। महोबा अस्पताल में प्रभा खत्म हो गई हे। प्रभा की छह महीना की एक बिटिया भी हे। ईखी दरखास कुलपहाड़ कातवाली में दई हे। कुलपहाड़ कोतवाली के एस.आई.रामकुमार बताउत हे कि दहेज उत्पीड़न के कारन मार देना जा मर जाना के तहत ससुराल वाले के नाम मुकदमा लिख गओ हे। ईखी विवेचना सी.ओ. राजीव करत हे।