दहेज में नहीं मिली कार, शादी से इन्कार

जिला लखनऊ, मोहल्ला मोमिननगर। यहां पर दहेज में कार की मंाग पूरी न होने पर लड़के के घर वाले शादी तोड़ दिये। बेटी की शादी टूटने से दुखी पिता चार लोगों के साथ जब लड़के के घर पहुंचा तो वर पक्ष ने उनकी पिटाई कर दी। पीडि़त ने पांच लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया है।
लड़की के पिता राजेष ने बताया कि 15 दिसम्बर को तिलक की रस्म होना था तो निवासी कानपुर के प्रकास के पुत्र विजय ने 51 हजार रुपया की मंाग की तो हम लोगों ने 51 हजार रुपया नगद और एक लाख का दहेज दिया। फिर एक जनवरी को षादी के दिन जब हमारे बारात आई तो उन्होने कार की मंाग की उस वक्त हमने किसी तरह समझा बुझा कर शादी करा दी तो नौ जनवरी को फिर वर पक्ष ने कार की मंाग षुरू कर दी। लेकिन जब हम लोगों ने कार देने से साफ इन्कार कर दिया तो विजय ने हम लोगों की पिटाई की फिर हम मोमिनगंज थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। लड़के विजय के नाम और साथ में चार लोगों के नाम रिपोर्ट दर्ज करा दी है।
वर पक्ष के विजय का कहना है कि लड़के वालों का काम है दहेज देना और लड़के वालों का काम है दहेज लेना। मैने कार मंाग कर कौन सी बुराई की है।
पुलिस एस.ओ. जावेद खान का कहना है कि हमने छह लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है अब हम उनके ऊपर सख्त कार्यवाही करेगे। हमने बाप-बेटे को जेल में बंद कर दिया है उन्हें कोई हक नहीं है किसी लड़की की जिन्दगी बर्बाद करने का।