दहेज प्रथा को लड़त मुकदमा

DSCN0037-ed-wजिला महोबा, ब्लाक कबरई, कस्बा कबरई, मोहल्ला सुभाष नगर। एते के उर्मिला की शादी छह साल पेहले उन्नाव जिला के अजय कुमार के साथे भई हती। शादी मे दहेज न मिले के कारन ससुराल वाले आय दिन मारपीट करत हते। अब एक साल से ससुराल वालेन के खिलाफ दहेज प्रथा को मुकदमा लड़त हे।
उर्मिला बताउत हे की मोई शादी हिन्दु रीति रिवाज के साथे भई हती। बाप ने अपनी हेसियत से ज्यादा दान दहेज भी दओ हतो। पे ससुराल वालेन को पेट नईं भरो ओर ऊं मोये ससुराल मे दहेज खा लेके ताना देन लगे। चार साल तक मेने कछू नईं कहो। जभे मोओ लड़का पेट मे हतो तो ससुराल वाले मोये साथे मारपीट करन लगे। मेने अपने मताई बाप खा फोन करके बताओ तो मताई बाप कहत हते की अभे कछू न कहो बाद मे देखो जेहे। ससुराल वाले दहेज मे वशिंग मशीन, फ्रीजर ओर एक लाख रूपइया मांगत हे। कहत हे की जभे तक मांग पूरी न हो हे। हम न रखहें। मोये दो लड़का हें। एक लड़का आदमी लये हे दूसर मेये एते हे। एक साल से मे कोर्ट कचहरी के चक्कर काटत हों।
वकील रामप्रसाद यादव बताउत हे की नोटिस भेजी जात हे। दूर होंय के कारन नईं आउत हे। कश की बराबर पैरवी करी जात हे। अभे तलब भी करो हे। उर्मिला के दो केस चलत हे। एक खाना खर्चा ओर दूसर दहेज प्रथा को।

रिपोर्टर – श्यामकली