दहेज प्रथा को लिख गओ मुकदमा

Mahoba - Mahila Thana webमहोबा शहर, बीजानगर। एते के ऊषा खा ससुराल वाले डेढ़ साल पेहलेे कम दहेज के कारन मारके घर से निकार दओ हतो। न्याय के लाने एस.पी. से गुहार लगाई हती। पुलिस ने ससुराल वालेन के नाम दहेज प्रथा को मुकदमा लिख जेल भेजे की बात कहत हे।

ऊषा बताउत हे कि तीन साल पेहले सतारी गांव मे सुरेश के साथे भई हती। शादी के पेहले दहेज की कोनऊ मांग नई रही हे। शादी के बाद ससुराल वाले कम दहेज को ताना देन लगे। मायके से पचास हजार रूपइया नगद ओर मोटर साइकिल लायें खे दबाव बनाउन लगे। मोओ बाप गरीब हे। न देय पे मोये साथे मारपीट करन लगे। शादी में अपने हंेसियत से ज्यादा दहेज दओ हतो। में डेढ़ साल से मायके में रहत हों। मोंये एक लड़का हे। आदमी कहत हेे तोये जिते जायें खा हो सो चली जा। 7 जुलाई खा महिला थाना में बुलाओ गओ हतो। ससुर गयाचरन बताउत हे कि हम राखे खे तैयार हे। हम दहेज नई मांगत हे ओर न कछू कहत हे। महिला थाना के एस.आई. संगीता सिंह बताउत हे कि 3/4 (दहेज निषेध अधिनियम), 506 (मारपीट), 504 (गाली गलौज), 498ए (दहेज उत्पीड़न) को मुकदमा लिख गओ हे। अभे जांच चलत हे।