दहेज के लालच मा मारपीट के घर से निकारिन

रन्नो के महतारी सुरतिया
रन्नो के महतारी सुरतिया

जिला बांदा, ब्लाक तिन्दवारी, गांव सैमरी। हेंया के रन्नो का आरोप है कि दहेज कम मिलैं का बहाना कइके 27 फरवरी का ससुराल वाले वहिका मार के घर से निकार दिहिन हैं। यहिके दरखास मैं तिन्दवारी थाना मा दीन हौं।
रन्नो का कहब है कि मोर बाप महतारी चार साल पहिले खूबै दान दहेज दइके रीती रिवाज से मनसवा गंगादीन साथै करिन रहैं। यहिके बाद भी उंई दहेज लोभी ससुराल वालेन का पेट न भरा अउर शादी के बाद से रोजै मारपीट करैं लाग अउर दहेज कम मिलै का ताना दें लाग। 27 फरवरी का तौ उंई मार के हद पार कइ दिहिन। जेहिसे मोरे बहुतै अंदरूनी चोटैं आई हैं अउर घर से भी निकार दिहिन। तबै से मैं आपन मइके मा हौं अउर उनके खिलाफ तिन्दवारी थाना मा दरखास दइके नियाव के मांग कीन है। मोहिका जबै तक नियाव न मिली तबै तक वहिक साथै न रइहौं। इनतान के मनसवा के साथै रहैं से का फायदा है।
मनसवा गंगादीन का कहब है कि वहिसे कउनौ दहेज के मांग नहीं करत आय न मार के घर से निकारा आय। वा अपने मन से मइके गे है अउर हमका फंसावैं खातिर मार के घर से निकारैं का झूठ आरोप लगवत है।