दवा खरीदे के न हई

Photo-0358
सदर अस्पताल में प्रसव वाली महिला

जिला शिवहर के सदर अस्पताल के प्रसव वाली महिला सब कहलथिन कि उनका सब के दवाई खरीद के लावे परई छई।
इहां प्रसव के लेल आयल तेतरी देवी अउर सहनाज खातून कहलथिन कि हमरा सब के सारा दवाई अपने खरीद के लावे परई छई। कोनो दवाई अस्पताल से न मिलल। सुनई छियई कि सरकारी अस्पताल में सारा दवाई मंगनीय मिलई छई।
स्वास्थ्य प्रबंधक सुधिर कुमार कहलथिन कि कोई दवाई खरीदे न परई छई। लोग से रूपईया लेवे के इ आशा सब के चाल होई छई। केतना आशा पर त एफ.आई.आर. भी भेल हई। उहे जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड रीगा, पंचायत, गांव सीराही के भी इहे हाल हई। उहां वार्ड नम्बर दस भोकराहा टोला के नीलम देवी के बच्चा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में तीन महीना पहिले भेलई। लेकिन स्वास्थ्य केन्द्र में भी दवाई अपने से खरीद के लावे के होई छई।
नीलम देवी कहलथिन कि हमरा जब प्रसव के दर्द भेल त आशा गाड़ी बुलवा के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र ले गेलथिन। ओई समय जे दवा खरीदे के भेलई उ अपने से छौ सौ के दवाई खरीदली। सरकार सब सुविधा देई छथिन। लेकिन मिलई छई कहां? चैदह सौ रूपईया मिलई छई लेकिन ओई से ज्यादा खर्च हो जाई छई।
स्वास्थ्य प्रबंधक प्रसांत कुमार कहलथिन कि प्रसव के समय ज्यादा दवा के जरूरी न होई छई। जे दवा अस्पताल में रहई छई उ देल जाई छई। जे न रहई छई उ बाहर से खरीद के लबई छथिन।