दर्शन के लेल जान गेल

mahila mudda2जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड रीगा, पंचायत सिरौली द्वितीय, गांव रामनगरा, वार्ड नम्बर बारह। उहां के भुपनाथ शर्मा सावन में लगूर खोला (नेपाल) में दह गेलथिन। जेई कारण से उनकर मौत होगेलई। उनकर उमर पैतालिस साल रहलई।
उनकर पत्नि शौल देवी कहलथिन कि अपना गांव के लोग साथ में न रहथिन। मोहनपुर पेटौल पम्प के पास बस ट्रक बनावे वाला दुकान हई। ओही तर के लोग बैजू शर्मा, अनील सिंह, सागर कुमार के साथ में हमर पति गेलथिन। सारा कपड़ा, रूपईया हमरा पति के गेलई। इहां से सब साथे गेलक, उहां जाके सब अलग हो गेल। उ लोग घरे आ गेलथिन। तीन दिन अयला पर हमरा कोई न कहलक। हम उनका सब से पता लगा के तब हम खोजी कइली। एक दिन सब तर से खोज के चल अइली, दूसरा दिन अस्पताल में पुलिस के पास लाश मिलल। चार लड़की तीन लड़का हय। सब नादान हय। नवसृजित विद्यालय में रसोईया के काम करके गुजर बसर करई छी।
मुखिया विश्वनाथ भगत कहलथिन कि आवेदन हमरा पास देतई तब त हम कोई काम करव हमरा पास कोई सुचना न आयल हई।
प्रखण्ड विकास पदधिकारी प्रभात कुमार बरूआ कहलथिन कि मृत्यु प्रमाण का बना के लेवर डिपार्मेन्ट के देथिन, उ लिख के हमरा पास जमा करतई। तब उनका सरकारी सुविधा देल जतई। कवि अंत्योष्टि योजना से 1500 रूप्या अउर परिवारिक लाभ भी मिलतई।