दबंगई के बल लें चाहत रहैं जान

reruva gav marpeetजिला चित्रकूट, ब्लाक रामनगर, गांव रेरुवा। हिंया के प्रेमकली का आरोप हवै कि 7 जून का अपने भइंस का पानी पियावैं नदी गई रहौं। पड़ोस मा रहैं वाले रामजस तिवारी, गौरी अउर साधू तिवारी भइंस का पानी नहीं पियैं देत रहैं। मैं उनका मना करेंव कि काहे पानी नहीं पियै देत हौ तौ उंई मोरे साथै लाठी डंडा से मारपीट करिन। यहिसे मोर हाथ टूट गा। यहिके रपट रैपुरा थाना मा लिखाइगे, पै कउनौ कारवाही नहीं भे आय।

प्रेमकली कहिस कि 7 जून का मोरे साथै मारपीट करिन। यहिके बाद 10 जून का मंै आपन तीनौ बहुअन का लइके टट्टी करावैं गें रहौं तौ हुंवा रामजस, गौरी, साधू तिवारी, राजू, षिवषंकर लवलेष, जगत नारायण अखिलेष कुमार अउर रामगणेष आ के घेर लिहिन अउर कहिन कि इनका जान से मार देव। आज इं बच के न जा सकै। हमरे कपड़ा फाड़ दिहिन। कउनौतान से आपन जान बचा के हुंवा से आय रहेन। यहिके रपट फेर रैपुरा थाना लिखावै गयेन। अबै भी उनके खिलाफ कारवाही नहीं कीन गे हवै। अगर हमका नियाव न मिली तौ हम एस.पी. के लगे जा के लिखित देइबे।

अखिलेष कुमार कहिन कि पे्रमकली के बहू अपने भइंस का चारा डारत रहै। वा पहिले से गाली गलौज करिस रहै। येत्ते मा उनके परिवार वाले आ गें और मारपीट षुरु करिन। यहिसे लड़ाई बढ़ गे हवै। रैपुरा थाना के मुंषी फूलचंद्र कहिन कि दूनौ पक्ष के खिलाफ 323( मारपीट) 304(गाली गलौज) अउर 506( जान मारैं के धमकी) लाग हवै।