ट्रांसफाॅर्मर के लेल मंगई छई घूस

बिना  ट्रांसफाॅर्मर के पोल
बिना ट्रांसफाॅर्मर के पोल

जिला शिवहर, प्रखण्ड तरियानी, गांव रामपुर खास। इहां के ट्रांसफाॅर्मर लगभग चार साल पहिले जल गेलई। लेकिन आई तक इहां दोसर ट्रांसफाॅर्मर न लगलईं
ठहां के कलाम अंसारी, सैरून निषा कहलथिन कि ऐही तर बगल के नन्हकार टोला में बिजली हई पर इहां न हई। विद्यायक फण्ड से सारा गांव में ट्रांसफाॅर्मर लगलई तब हमहु सब आवेदन देले रही, लेकिन हमरा सबसेेे दस हजार रूपईया मांग कयल गेल। ऐई गांव में लगभग दु सौ घर हई जेकि सब मुस्लिम ही हई। हमस ब गरीब आदमी ऐतना रूपईया जुटा पईली। जेई कारण हमरा सब के गांव में बिजली न आ पयलक। सरकारी समान में रूपईया कयला देवे परई छई? गरीब के लेल बिजली न हई? रूपईये खातीर हमर सब के आवेदन पर ध्यान न देल गेलई।बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता सुरेश प्रसाद कहलथिन कि जेतना राजीव गांधी विद्युतकरण योजना के तहत ट्रांसफाॅर्मर लगल रहईओकरा बारहवीं वित योजना के तहत काम करायल जतई। इ काम एस.पी. या विद्यायक ही करवईथिन। अगर लोग के काम न होई छई त लोग के कहे लगई छथिन कि रूपईया मंगई छई।