टी.बी. के बीमारी से एक मउत

pati TB se mara sumaina bhavanipur webजिला बांदा। टी.बी. के बीमारी से एक साल से पीडित रामकरन के मउत 27 मार्च का होइगे। कंचन पुरवा का सुरेष भी एक साल से टी.बी. के बीमारी से पीडि़त है प्राइबेट इलाज चलत है।
ब्लाक तिन्दवारी, गांव भवानीपुर। हेंया के सुमैना बताइस-“पति रामकरन का एक साल से टी.बी. के बीमारी रहै। जेवर अउर जमीन बेंच के नये गांव छावनी, कानपुर अउर बांदा मा प्राइवेट अस्पताल से इलाज करावा गा। लाखन रूपिया इलाज मा लाग गा, पै नींक नहीं भा अउर 27 मार्च का पति के मउत होइगे।”
बांदा षहर का मोहल्ला कंचनपुरवा। हेंया के लक्ष्मी बताइस -“पति सुरेष का एक साल से टी.बी. के बीमारी है। अबै तक मा प्राइवेट अस्पताल से तेरह हजार रूपिया का इलाज करा चुकिव, पै अबै नींक नहीं होत आय।
सरकार टी.बी. के बीमारी के रोकथाम खातिर सेंत मा इलाज अउर डाट्स जइसे के कार्यक्रम चलावत हैं। फेर भी या कार्यक्रम उंई लोगन से दूर हैं जिनका पता ही निहाय कि इलाज सेंत मा भी होत है।