टंकी बढ़ाउत शोभा

छह साल से खराब परी टंकी
छह साल से खराब परी टंकी

जिला महोबा, ब्लाक कबरई, गांव पचपहरा को मजरा तिन्दुही। ई गांव में जल संग्रह परियोजना केे तहत सन् 2006-7 में पानी की टंकी बनी हती। जा टंकी लगभग छह महीना चली हे। ऊखे बाद लगभग सात साल से बंद परी हे। जीसे गांव में पानी की दिक्कत हे।
गांव के मुन्ना, राजू ओर नीता ने बताओ कि गांव में टंकी बने खा कोनऊ फायदा नइयां। हमाये गांव में तीन हजार की आबादी हे। सब आदमी हैण्डपम्प ओर कुंअन के पानी से काम चलाउत हें। जभे कि पूरे गांव में पाइप लाइन बिछी हे। गांव को कल्लू कहत हे कि सरकार ने गांव में करोड़न रूपइया लगा के जा टंकी बनवाई हती। जीसे जनता खा पानी की सुविधा हो जेहे, पे टंकी कबाड़ बनी परी हे।
टंकी आपरेटर बरदानी कहत हे कि जा टंकी में दो ट्यूवबेल हें। एक नम्बर को ट्यूवबेल खराब हे ओर दो नम्बर को ट्यूवबेल में पानी चलाये वाले सामान खे चोरी हो गई हे। अधिकारी कोनऊ ध्यान नई देत आय। एई कारन से टंकी बन्द परी हे। जल निगम के जेई अखिलानन्द ने बताओ कि ऊ टंकी ओर ट्यूवबेल प्रधान के अन्डर में हें। अगर गांव में ऐसी समस्या हे तो ग्राम प्रधान बी.डी.ओ. खा दरखास देय। बी.डी.ओ. डी.एम. खा पत्र भेजहे जभे हमखा डी.एम. के एते से आदेश आहे तो हम काम करवा सकत हें।