जानकी कहिस जेल भेजवा के रहिहौं

mahila mudda janki devi bargadhजिला चित्रकूट, ब्लाक मऊ, कस्बा बरगढ़, रेलवे स्टेशन। हिंया के जानकी देवी का आरोप हवै कि लड़की सुशीला देवी का 8 जून का सास प्रेमा देवी अउर दामाद विपिन गला दबा के मार डारिन हवैं। यहिके सूचना कर्वी कोतवाली मा दीन गे, पै पुलिस अबै तक उनका जेल नहीं भेजिस आय।

जानकी देवी का कहब हवै कि लड़की सुशीला देवी के शादी कर्वी ब्लाक के शिवरामपुर लैना बाबा रोड मा 2004 मा विपिन साथै कीने रहौं। दामाद सुषीला साथै मारपीट करत रहै। यहिसे शादी होय के बाद दुइ साल तक सुषीला मइके मा रही हवै। ससुराल वाले वहिका या कहिके लेवा गें कि अब नींक से रखिबे, पै उंई अपने हरकतन से बाज नहीं आय। दामाद लड़की से हमेशा मइके से रूपिया मंगावत रहै। हम कइयौ दरकी कत्तौ बीस हजार तौ कत्तौ पच्चीस हजार रूपिया दीने रहेन। 8 जून का दामाद लड़की साथै मारपीट करिस अउर रुपिया लावैं का कहिस। लड़की रुपिया लावैं से मना मइ दिहिस तौ खूबै मारिस। इं सबै बातैं वा फोन मा बताइस अउर कहिस कि अम्मा मोहिका आ के लइ जाव नहीं तौ आज उंई जान से मार देहैं। वा समय मैं झांसी मा रहौं। मैं सुशीला से कहेंव कि आवत हंौ बता तौ आखिर का बात हवै। मैं ससुराल वालेन का आ के समझा देहू। जबै झांसी से आई तौ देखा कि वा मर चुकी हवै। वहिका सास प्रे्रमा देवी अउर दामाद गला दबा के जान लइ लिहिन। सुषीला के दुइ छोट छोट बच्चा हवैं। उनकर देखभाल कउन करी। सुसराल वाले मोर लड़की के बेकसूर जान लइ लिहिन हवै। अब मोर सुषीला कहां से मिली। मैं नियाव लइके रहिहौं सास अउर दामाद का जेल भेज के रहिहौं।

दामाद विपिन बात करैं से मना कइ दिहिस। वहिका बहनोई मुलायम कहिस कि इं लोग दिल्ली मा रहत रहै। 6 जून का दिल्ली से आय रहै। पता नहीं कि उनके बीच कउन से इनतान के बात भे हवै।

कर्वी कोतवाली के मुंशी छेदीलाल कहिन कि सूचना मिली हवै। दिन तेरही के बाद विपिन के खिलाफ कारवाही होइ।