चित्रकूट में बढ़ी मुश्किलें

25-07-13 Ksetriya - Karvi Sadak 225-07-13 Kshetriya - Karvi Sadak 1जिला चित्रकूट। जगह जगह गड्ढे और नालियों का गंदा पानी सड़कांे पर और घरों के अंदर – इस बरसात ये स्थिति पूरे जिले में देखी जा रही है। नाली, खड़ण्जा बनाने के लिए बजट की कमी है या और कोई समस्या, जिले के गांवों में ये हाल सालों से बना हुआ है।
ब्लाक कर्वी, गांव भंभई के राजकरण, षिवकुमार, इन्द्रजीत और ब्रिजनिया का कहना है कि सौ फुट सड़क 10 जुलाई 2013 को धंस गई है। इस कारण से दुर्घटना का डर बना है। प्रधान छोटी से पहले भी कह चुके हैं। कर्वी बी.डी.ओ. श्रीकान्त त्रिपाठी ने कहा कि दरखास आई है पर बजट आने पर ही काम शुरू हो सकता है।
पहाड़ी ब्लाक, गांव अषोह में भी सड़क की समस्या दो साल से है। यहां के जुगुल किषोर, बाबू गौतम और चंदा ने बताया कि बरसात में घुटनों तक कीचड़ भरा रहता है। नाली ना होने से घरों में बरसात का पानी घुस आता है। कई बार प्रधान उमा उर्फ चित्रादेवी और सांसद, विधायक से कहा गया है पर कोई सुनवाई नहीं हुई।
ब्लाक मानिकपुर गांव किहुनिया का मारकुण्डी पुरवा। एक किलो में से तीन सौ मीटर नाली, खड़ण्जा बनवा दिया जाएगा। बाकी बनवाने के लिए बजट नहीं है। ऐसा कहना है मानिकपुर ब्लाक प्रमुख श्यामबिहारी का। गांव के प्रमोद कुमार और रोषन लाल बताते हैं कि प्रधान और ब्लाक प्रमुख से कई बार कह चुके हैं। पर लोग अपने अपने गांव और बस्ती में विकास के कामों पर ज़्यादा ध्यान देते हंै। प्रधान राजनारायण त्रिपाठी का कहना है कि ब्लाक में कई बार लिखित दिया है।