चलती बस से मां बेटी को फेंका, बेटी की मौत

पंजाब, मोगा जिला। पंजाब के मोगा जिले में 29 अप्रैल को चलती बस से एक औरत और उसकी बेटी को धक्का दे दिया गया। इसमें लड़की की मौके पर ही मौत हो गई जबकि औरत का इलाज अस्पताल में चल रहा है।
छिंदर कौर, सातवीं में पढ़ने वाली उनकी बेटी अर्शदीप कौर और बेटा अक्शदीप कौर मोगा जिले से वाघा पुराना इलाके में जाने वाली बस में सफर कर रहे थे। तभी बस कंडक्टर के साथ तीन और लोग अर्शदीप के साथ छेड़खानी करने लगे। छिंदर कौर ने बताया कि बस लोगों से भरी थी। मगर किसी ने कुछ नहीं कहा। मैंने और मेरे बेटे ने विरोध किया। इस पर कंडक्टर और दो लोगों ने छिंदर और अर्शदीप को चलती बस से फेंक दिया।
Sukhbir-Badal webपंजाब प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष प्रताप सिंह बाजवा के अनुसार आॅर्बिट एविएशन पंजाब की सबसे बड़ी बस कंपनी है। उन्होंने यह भी बताया कि इस कंपनी के तहत ही पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल की बसें भी चलती हैं। सुखबीर सिंह बादल मौजूदा मुख्यमंत्री बादल सिंह के बेटे हैं। लड़की के पिता ने वहां की सरकार द्वारा मुआवजे ़के तौर पर दिए गए बीस लाख रुपए मंजूर कर लिए हैं। उनका कहना है कि वह अब सबसे पहले अपनी पत्नी का बेहतर इलाज करवाना चाहते हैं, जिससे उनकी जान बच सके।
तीनों आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं। लेकिन बस कंपनी पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। पंजाब में इस समय शिरोमणि अकाली दल और भारतीय जनता पार्टी की मिलीजुली सरकार है।