चउकी मा भरा कीचड़, पानी बिना परेषानी

gaow 1जिला फैजाबाद, ब्लाक तारुन, गंाव जाना बाजार। हिंआ नाली भठी पड़ी बाय। नल मा कीचड़ अउर काई कै ढ़ेर लाग बाय। पानी पियै का मनई मजबूर अहैं।
इषहाक अली, राइसा बताइन कि नल के चउकी मा कीचड़ भरा बाय। बाल्टी मा पानी भरै से बाल्टी मा सारा कीचड़ लाग जाथै। नाली कै सारा पानी चउकी मा भरा बाय। पानी पियै कै यतनी समस्या बाय कि मजबूरन पियै का परत बाय। चउकी धंस जाए से नाली कै कीचड़ जमा बाय। रामावती, राधिका बताइन कि मजबूरी बाय इहैं एक नल बाय दस-बारह घर कै मनई यही से पानी पियाथे। हिंआ कै प्रधान एक नल नाय साफ करवाय सकते। दूसर कहां से लगुवइहैं। पानी बिना सब कुछ बेकार बाय। लकिन हिंआ कउनौ मोल नाय बाय।
प्रधान विजय कुमार बताइन कि सड़क बनत बाय यहीसे खुदाई कइके मिट्टी डाल देहे अहैं तौ चउकी नीचे चली गै बाय। बन जाये तौ चउकी ऊपर कराय दीन जाये।