घर चलाउ कि शौचालय बनाउ

जिला  शिवहर , प्रखण्ड तरियानी, गांव वैधनाथपुर, वार्ड नम्बर ग्यारह। इहां लगभग पांच सौ घर में शौचालय  न हई। जेइ कारण लोग सबके  शौच के लेल दिक्कत होई छई।
इहां के सुनिता देवी, कुरैसा खातुन, मोहम्मद मुनीर कहलथिन कि सब जगह शौचालय बन गेलई। एई गांव में बनवे न कलई। सरकार एतना प्रचार प्रसार करइ छथिन कि शौचालय में शौच करे के लेल। बाहर में करे से बिमारी होई छई। लेकिन हम सब मजदुर आदमी घर चलाउ कि शौचालय बनाउ। कयला कि सरकारी शौचालय भी बनाबे के लेल रूपइया के मांग करई छथिन। इ भी कहइ्र छथिन कि पहिले अपने से बनाउ ओकरा बाद रूपइया मिलतइ्र। हमसब ओतना रूपईया कहां से लाउ से बनायब।

वार्ड मेम्बर मिना देवी कहलथिन कि जब बनावे अबई छइ सरकारी शौचालय त रूपइया के चलते न बनबई जाई छथिन।  सरकारी भी शौचालय  बनबई छई त पहिले अपने रूपइया लगावे के परई छई।

पी.एच.ई.डी. विभाग के बड़ा बाबु जीतेन्द्र कुमार कहलथिन कि जे भी लोग शौचालय  बनावे के चाहई छथिन उ बनवा के फोटो के साथ आवेदन देथिन त विभाग से उनका बारह हजार रूपइया देल जतई।