घर गिरै अउर पाला परैं के मुआवजा खातिर परेशान

किसान करत शिकायत
किसान करत शिकायत

बांदा जिला के ब्लाक नरैनी, गांव पिपरा, शाहपाटन अउर बड़ोखर खुर्द ब्लाक गांव कुरौली, मवई। कतौ घर गिरै का मुआवजा तौ कतौ पाला परैं के मुआवजा न मिलै से मड़ई परेशान है।
शाहपाटन के रामकली अउर पिपरा के लगभग डेढ़ सौ किसान चेक न मिलै से तहसील के चक्कर लगावत हैं। शाहपाटन के रामकली अउर पिपरा गांव के लालमन कहत हैं कि जनवरी 2013 मा बहुतै ठण्डी अउर कोहरा होय से अरहरी के फसल मा पाला पर गा रहै। पाला का सर्वे भी लेखपाल करिस, पै चेक नहीं देत आय।
शाहपाटन का इन्चार्ज लेखपाल मुन्ना कहत है कि हेंया का लेखपाल रामसनेही रहै। अब वहिकर तबादला होइगा है। वा चेक बनाइस है या नहीं, मोहिका पता निहाय। पिपरा लेखपाल रामकिशोर कहिस कि गांव मा एक सौ छब्बीस किसान का चेक बना के दई दीन गा है। बाकी सब झूठ शिकाइत करत हैं। नरैनी एस.डी.एम. मोहम्मद नसरूल्लाह कहत हैं कि जिनके खेतन के आधी फसल बरबाद होइगे है वहिका ही चेक दीन जात है। दूसर बात पिपरा गांव के मड़इन का वहै समय समस्या के दरखास दें का चाही। अब कुछ नहीं होई सकत।
यहिनतान कुरौली अउर मवई गांव मा जून 2013 के बारिस मा सैकड़न घर गिर गे हैं। मवई के मइकू, राजकुमारी अउर कुरौली के नत्थू, कमलेश कहत हैं कि मुआवजा दें खातिर लेखपाल लिख लई गा है। कुरौली गांव का लेखपाल भगवान दीन कहत है कि गांव मा लगभग चालिस घर गिरे हैं। सबके नाम के सूची बना के प्रशासन का भेज दीन गे है। मवई गांव के मामला मा तहसीलदार चन्द्रभान सिंह कहत हैं कि जेहिकर घर सौ मा पन्द्रह प्रतिशत घर गिरा है वहिका ही मुआवजा दीन जई।