ग्राम रोजगार सेवक दिहिन ज्ञापन

धरना मा बइठे पंचायत मित्र
धरना मा बइठे पंचायत मित्र

चित्रकूट जिला मा ग्राम रोजगार सेवक (पंचायत मित्र) 23 सितम्बर 2013 का कर्वी ब्लाक मा धरना धरिन। धरना धरैं के बाद डी.एम. का ज्ञापन दिहिन। धरना धरै का उद्देश हवै कि उनका ग्राम विकास अधिकारी के पद मा भर्ती कीन जाये। या कहिन ग्राम रोजगार सेवक।
या मामला का लइके खबर लहरिया पत्रकार डी.एम. बलकार सिंह से बात करिन। उंई कहिन कि यहिके बारे मा सी.डी.ओ एम.पी. सिंह बतइहैं। यहै से सी.डी.ओ एम.पी. सिंह से बात भे। उनकर कहब हवै कि ग्राम रोजगार सेवक सोचत हवै कि उनका ग्राम विकास अधिकारी बनावा जाये। या काम सरकार का हवै। वहै भर्ती करी। या काम हमार नहीं आय।
मानिकपुर ब्लाक, चर गांव के ग्राम रोजगार सेवक रामनंदन द्विवेदी का कहब हवै कि वेतन सितम्बर 2012 से अबै तक नहीं मिला आय। एक महीना मा तैंतिस सौ रूपिया वेतन मिलत हवै। मनरेगा योजना के तहत जाब कार्ड, मस्टर रोल भरब, रजिस्टर के देख भल अउर जनगणना, साफ सफाई का अभियान चलाउब जइसे काम करै का परत हवै।
लौढि़या खुर्द गांव का ग्राम रोजगार सेवक फेरम सिंह समेत पांच लोग भी कुछ यहै कहिन। उनकर कहब हवै कि एक बरस से वेतन नहीं मिला आय। या कारन बच्चन के फीस अउर घर का खर्चा नींकतान से नहीं चल पावत आय। बच्चन के होली, दीवाली अउर ईद के त्यौहार मा नये कपड़ा अउर पटाखा के कउनौ व्यवस्था नहीं होइ पावत आय। जिला मा लगभग दुइ सौ छप्पन ग्राम रोजगार सेवक हन। हमका ग्राम विकास अधिकारी के पद मा सरकार भर्ती करैं अउर हमार वेतन भी बढ़ावै नहीं तौ 30 सितम्बर 2013 का लखनऊ मा पूर उत्तर प्रदेश के ग्राम रोजगार सेवक आपन मांग खातिर धरना प्रदर्शन करबै।