गिरे के कगार में खम्भा

जिला महोबा, ब्लाक चरखारी गांव कनेरा। एते बिजली के दो खम्भा टूटे परे हें। आदमी दूसर खम्भा भी ले आये हें पे बिजली विभाग वाले लगाउन नई आउत आय।
हरिशंकर, जगपाल ओर शान्ती ने बताओ कि हमाये गांव में 2004 में बिजली लगी हती। जीसे अब खम्भा टूट गये ओर तार जर-जर हो गये हें। कमलापत बताउत हे कि जोन खम्भा गिरे की कगार में हे ऊ मोये घरन के एते लगो हे। अगर ऊ खम्भा गिर जेहे तो हमाओ लाखन को नुकसान हो हे। काये से खम्भा छडि़या के बल में टिको हे। तीन महीना पेहले दूसर खम्भा लेय आये हे हमाओ पचीस सौ रूपइया लगो हे।
प्रधान गीता देवी के आदमी तेजसिंह ने कहो कि मेने खम्भा लगाये के लाने केऊ दइयां बिजली विभाग के जेई खा कहो हे, पे ऊ नई सुनत आय।
चरखारी बिजली विभाग के जे.ई. प्रवीण कुमार ने बताओ कि अभे अकटौंहा गांव की बिजली ठीक कराउत हतो। जेसई लैनमेन खाली हो जेहें तो कनेरा गांव में खम्भा लगवा दये जेहे।
जैतपुर ब्लाक के मुढ़ारी गांव मे तीन महीना से ट्रान्सफारमर फुंको परो हे। जीसे तीन मोहल्लन में अंधियारो छाओ रहत हे।
माधवसिंह, राकेश ओर वीरपाल ने बताओ कि हमाये बच्चा बिजली के बिना न तो पढ़ पाउत हें न सो पाउत आय। काय से ठन्डी तो परे लाग हे, पे मच्छरन की संख्या में कोनऊ कमी नई आई आय। प्रधान के बड़े भाई उमाशंकर ने बताओ कि अभे पचीस दिन पेहले बिजली विभाग में ट्रान्सफारमर धराये खा कहो हे।
बिजली विभाग के एस.डी.ओ. आर.पी. साहू ने बताओ कि अब ऊ लोहिया गांव हो गओ हे। ओते तार भी बढ़ने हे, प्रस्ताव पास हो गओ हे। ओते ट्रान्सफारमर ओर काम जल्दी ही शुरू करा दओ जेहे।

टूट लाग खम्भा
टूट लाग खम्भा