खेल कूद – कहीं हार तो कहीं जीत

मेलबर्न, आॅस्ट्रेलिया। क्रिकेट की दुनिया में एक बार फिर आॅस्ट्रेलिया ने जीत का पर्चम लहराया जब 29 मार्च के वलर््ड कप फाइनल मैच में वे न्यूज़ीलैंड से सात विकट से जीते। इसके पहले सेमी फाइनल मैच में भारतीय क्रिकेट टीम को आॅस्ट्रेलिया के हाथों हार झेलनी पड़ी थी।

sainaलेकिन एक ओर जहां करोड़ों भारतीयों के सपने टूटे, बैडमिन्टन की खिलाड़ी साइना नेहवाल बैडमिन्टन में नंबर एक के स्थान पर पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला बनीं। भारत में ही चल रही अंतर्राष्ट्रीय बैडमिन्टन प्रतियोगिता ‘इंडिया ओपन’ को जीतने पर साइना को दुनिया में बैडमिन्टन के खेल में ये अव्वल दर्जा पहली बार मिला है।
क्रिकेट की दुनिया को इस विश्व कप के बाद कई बड़े खिलाडि़यों ने अल्विदा भी किया। आॅस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लार्क, न्यूज़्ाीलैंड के पूर्व कप्तान डैनियल वेटोरी – दोनों ने क्रिकेट से सन्यास ले लिया। जब भारतीय कप्तान धोनी से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि अभी वे कुछ नहीं कह सकते थे और शायद 2019 का वलर््ड कप भी खेलें।

धोनी की हुई तारीफें
भले ही कई चाहने वालों ने धोनी से मुंह मोड़ लिया हो, कई पुराने नामी खिलाडि़यों ने सेमी फाइनल मैच की हार के बाद भी धोनी और उनकी कप्तानी की खुलकर तारीफ करी।
पूर्व कप्तान गांगुली ने कहा कि धोनी भारतीय क्रिकेट के सबसे अच्छे कप्तान हैं। सचिन ने भी कहा कि उन्होंने जितने कप्तानों के साथ खेला उनमें धोनी बेहतरीन थे।

क्रिकेट वर्ल्ड कप की कुछ खास यादें
इस वर्ल्ड कप ने कई यादगार और खास पल दिए।
– भारतीय टीम ने पिछले और इस वलर््ड कप को मिलाकर लगातार ग्यारह मैच जीते। ये रिकाॅर्ड दूसरे नंबर पर है। इसके पहले लगातार सबसे ज़्यादा वलर््ड कप मैच जीतने वाले हैं आॅस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पाॅन्टिंग जिन्होंने 1999 से 2003 तक लगातार चैबीस मैच जीते थे।
– वेस्ट इंडीज़्ा के क्रिस गेल ने जि़्ाम्बाब्वे के खिलाफ 215 रन बनाए। ये पहली बार दो सौ से ज़्यादा रन वलर््ड कप के किसी मैच में बनाए गए थे।
– अफगानिस्तान और अरबी देशों ने पहली बार इस प्रतियोगिता में भाग लिया।
– न्यूज़ीलैंड चार बार सेमी फाइनल में हारने के बाद आखिर इसी साल फाइनल तक पहुंच पाए।