खाना खर्चा को लड़त मुकदमा

सुन्ता
सुन्ता

जिला महोबा, ब्लाक कबरई, गांव पचारा। एते की सुन्ता बताउत हे कि तीन बिटियां होंय के कारन परेशान हे। जीसे धारा 127 (खाना खर्चा की बढ़ोत्तरी) लाने एक साल से मुकदमा लड़त हे। सुन्ता कहत हे कि मोई लगभग 25 साल पेहले बीला दक्षिण में गुलासी के साथे शादी भई हती। मोये तीन बिटिया हे। लड़का न होंय के कारन ससुराल वाले ताना देत हते ओर मारपीट करत हते। मे आपन दो बिटिया लेके मायके में रहत हती। 2003 से मे खाना खर्चा को मुकदमा लड़त हती। जीसे जीत गई तो गुलासी कभऊं देत हे कभऊ नई देत हे ओर एसी मंहगाई में सात सौ रूपइया को महिना का होत हे। एई से दुबारा से मुकदमा लगा दओ हे। आदमी गुलासी बताउत हे कि मोये टी.वी. के बिमारी हो गई हती। जीसे सुन्ता आपने मायके मे आ गई हे। मारपीट को झूठो मुकदमा लगा दओ हतो। एक बिटिया में खुद पढ़ाउत हों।