क्या यात्राओं और गीतों में खोज रहें हैं आप समाजवाद?

akhilesh up copyआधुनिकता का सबसे बड़ा फायदा आज राजनीतिक पार्टियों को हो रहा है। ऐसे में उत्तर प्रदेश के आगामी चुनावों के प्रचार-प्रसार के लिए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी कहां पीछे रहने वाले थे।
‘मन से मुलायम’ से लेकर अखिलेश यादव के ऊपर फिल्माया गया, कोरस गाना ‘तरक्की का शुभारम्भ, प्रगति का श्रीगणेश….अखिलेश, अखिलेश’ गाना भी खासा चर्चित हो रहा है।
यही नहीं, गत मार्च के महीने में, अखिलेश यादव पार्टी की वर्षगांठ पर ‘समाजवादी सुगंध’ नाम का परफ्यूम बाजार में लाए।
ये सब देख कर लगता है कि समाजवादी पार्टी चुनाव प्रचार में किसी बड़ी पार्टी से कम नहीं है। इसी बीच अखिलेश सरकार ने अपने मंत्रियों को विदेश यात्रा पर पढ़ाई के लिए भेजा। जो उत्तर प्रदेश की जनता पर प्रभाव डालने का सबसे उत्तम तरीका रहा।
समाजवादी पार्टी को अखिलेश की विदेशी पढ़ाई का भी अच्छा लाभ मिल रहा है। तभी तो अखिलेश सरकार ने, प्रदेश में फैले भयंकर सूखे को अनदेखा कर, अपने कैबिनेट के चुनिंदा विधायकों को आगामी अगस्त महीने में तीन महीनें के चुनावी प्रचार-प्रसार की पढ़ाई करने अमेरिका भेजने का फैसला लिया है।
गौरतलब है कि सपा सरकार ने प्रदेश के लगभग सभी गांवों में जादू के खेल द्वारा अपनी योजनाओं का भी बेहतरीन प्रदर्शन किया है। हालांकि ऐसा नहीं था कि लोग इस जादू के खेल की असलियत को नहीं समझ।
लेकिन इस बात की दाद देनी होगी कि अपने भ्रष्ट और कुप्रशासन के बाद भी सपा सरकार वापस जीतने का हर सम्भव प्रयास कर रही है।