किसानन ने अपनी मांगन खा लेके धरना

taja kisan dharna khaba copyमहोबा जिला के तहसील मे 24 मई खा बुन्देलखण्ड किसान यूनियन ने विमल कुमार शर्मा की अध्यक्षता मे एक दिन को धरना धरो हतो। अपनी आठ सूत्रिये मांगन को ज्ञापन महोबा एस.डी.एम. सुशील प्रताप सिंह खा देके मुख्यमंत्री खा भेजो हे।
बुन्देलखण्ड किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष विमल कुमार, उपाध्यक्ष श्रवण कुमार कहत हे की महोबा जिला को किसान भुखमरी के कगार मे आ गओ हे। तीन साल से किसान सूखा ओलावृष्टि जेसी समस्या से जूझत हे। लेखपाल चेक वितरण करें मे आपन मनमानी करत हे। किसानन के साथे अभद्रता को व्यवहार करत हे। बुदेलखण्ड खा आकाल सूखा घोषित करो जाये। एक हेक्टेयर को पचास हजार रूपइया मुआवजा दओ जाये। बांदा जिला अध्यक्ष बालकृष्ण पटेल ने अपनी भाषण मे कहो की किसान अपने बच्चन को पेट काट के जनता के खाये खा देत हे। न ऊखो लड़का पढ़ पाउत हे न ही नौकरी करत हे। काय से रात दिन खेतन मे मेहनत करत हे। एई से किसानन खा पांच हजार रूपइया महीना की पेंशन लागू करी जाये। छानी कलां गांव के फत्ते, हरीराम ओर कालीचरन प्रजापति कहत हे की लेखपाले ने हमें अभे तक मे एक चेक पैतिस सौ रूपइया की दई हती। जभे की गांव के दूसरे किसानन खा दो-दो दइयां चेक मिल गई हे।
पनवाड़ी ब्लाक के नैपुरा गांव के दीनदयाल ओर भरत कहत हे की लेखपाल रूपइया लेके चेक बनाउत हे। ईखी दरखास भी केऊ दइयां अधिकारियन खा दई हे। पे कोनऊ कारवही नई भई हे।
महोबा एस.डी.एम. सुशील प्रताप सिंह ने ज्ञापन लेके अपनी तरफ से कारवाही कर जल्दी ही भेज देय को अश्वासन दओ हे।

रिपोर्टर –  सुनीता प्रजापति