का हो पेहे नुक्सान की भरपाई

किसान, पानी ओर ओला की मार
किसान, पानी ओर ओला की मार

17 मार्च खा महोबा तहसील दिवस में हजारन किसान आपन फसल लेके आओ हतो। 14-15 मार्च के रात दिन बरिस ओर ओलावृष्टि के कारन किसानन के आंखन से आंसू नई बन्द भये। किसान खा सोच हे कि ऊ आपन परिवार केसे पालहे।
कबरई क्षेत्र के घुटवई गांव के एक दर्जन से ज्यादा तहसील दिवस में आये किसानन ने नारा लगाये ओर एस.डी.एम. खा ज्ञापन दओ। दये ज्ञापन में कहो कि 2014 में भई ओला वृष्टि को मुआवजा आज तक नई मिलो हे, ओर न लेखपाल ओत सर्वे करन गओ हतो। कहो कि किसान क्रेडिट कार्ड ओर सोसाइटी बैंक को कर्जा मांफ कराओ जाये।
एसई डहर्रा ओर दमौरा गांव के किसान आपन फसल लेके आये ओर कहो कि हमाओ मुआवजा दओ जाये जीसे, आपन परिवार खा पाल सकन काय से अब हमाओ परिवार भुखमरी के कगार में आ गओ हे।
महोबा एस.डी.एम. प्रबुद्व कुमार ने बताओ ई तहसील में दो लाख रूपइया आओ हे। जोन 19-20 मार्च खा किसानन खा चेक के द्वारा बांटो जेहे। सिंचित जमीन मे नौ हजार को बीघा ओर असिंचित जमीन को साढ़े चार हजार को बीघा दओ जेहे।