का मिल पाहे आदमियन खा लाभ

Uttar-Pradesh-govt (1)

उत्तर प्रदेश में सरकार गांव की समस्या दूर करे खा योजना तो लागू कर देत हे। पे ऊ योजना को लाभ बोहतई कम आदमियन खा मिलत हे। ई सरकार में महोबा जिला में 2012-2013 में 16 गांव ओर 2013-14 में 18 गांव को लोहिया गांव चुने हे। जीमें 36 विभाग मिलके एक गांव को विकाश कराहे।
सरकार ने गांव में डाक्टर राममनोहर लोहिया ग्राम आवास भेजे हे। जीमें एक लाख पच्चीस हजार रूपइया मिलत हे। पे ई आवास गरीब आदमियन खा कम, जीखें पक्के मकान हें ओई खा सरकारी आवास को लाभ् मिलत हे।
जभे कि ई में घोटाला होय पे, दो-दो तीन-तीन दइयां सर्वे भओ हे। डाक्टर राममनोहर लोहिया ग्राम आवास पात्र आदमियन खा मिले खा चाही? सर्वे करें वाले ही अधिकारी घोटाला करत हे।
हम बात करें चाहत हे चरखारी ब्लाक गांव इमिलियाडांग, गांव के आदमियन को आरोप हे कि तीन दइयां दरखास देय के बाद भी कि ई गांव को ए.डी.ओ. बाबूलाल ने तीन दइयां सर्वे करो हे। पे ऊ आदमियन से दो हजार रूपइया लेके अपात्र आदमियन की कालोनी बनवाउत हे। सवाल जा उठत हे कि जभे पात्र आदमियन तक ऊ लाभ नई पोहचत हे काय लागू करी जात हे। अगर लागू करत हे तो ऊ योजना खा पलट के देखे खा चाही? ओर अपने अधिकारियन से जवाब लेय खा चाही। तभई गांव की स्थिति ओर गरीब आदमियन खा लाभ मिल सकत हे?