काम का मिलैं दाम

ban 4जिला बांदा, ब्लाक बबेरू, गांव पतवन। हेंया के मड़ई बताइन कि जुलाई 2014 मा मनरेगा के तहत खन्ती डालैं का काम करिन रहैं, पै मजदूरी नहीं दीन गे आय।
राममिलन कहिन कि बाबू सिंह के खेत से मझिला डांड तक दुई किलोमीटर सम्पर्क मार्ग मा खन्ती डालैं का काम सौ मजदूर मिलके कीने रहे हन। शिवचन्द्र कहत है कि वहिके सात हजार रूपिया मजदूरी परी है। राजाभइया कहत है कि पैंसठ खन्ती का रूपिया एक सौ बयालिस रूपिया प्रति खन्ती के हिसाब से नौ हजार दो सौ तीस रुपिया होत हैं। मजदूरी पावैं खातिर प्रधान से मांग कीन गे है।
रामराज, ललित, धनराज अउर इन्द्रजीत के साथै तीस लोग अउर बताइन कि उनका भी मजदूरी का रूपिया नहीं मिला आय। प्रधान मजदूरी न देई तौ अनशन करबे।
प्रधान लाला यादव का कहब है कि मस्टर रोल बना के बैंक मा जमा कई दीन गा है। जेहिसे मड़इन का मजदूरी मिल सकैं ज्यादातर मजदूरी दई दीन गे है।
सचिव चन्द्रराज कहत है कि मस्टर रोल बना के बैंक मा जमा कई दीन गा रहै। मड़ई सब जने आपन खाता से मजदूरी निकाल लिहिन होइहैं।