कर्मचारियन की लापरवाही से टूटत तार

taja khabar bijli ki samsya copyजिला महोबा, ब्लाक चरखारी, गांव अस्थौन में दस दइयां बिजली को तार टूट चुके हे। खबर लहरिया मे तीन दइयां खबर निकारें के बाद भी बिजली विभाग वाले अपनी लापरवाही से बाज नई आउत हे। जभे की बिजली के करंट से दो जानवरन की मौत हो चुकी हे। 22 मई खा एक दइयां फिर गांव के बिजली के दो तार टूट गओ हे। तीन दिन के बाद भी ओते बिजली विभाग के कर्मचारी देखन नईं गये हे।
देवेन्द्र राजपूत, प्रकाश सैनी ओर वासदेव राजपूत कहत हे की हमाये गांव मे चालिस साल पुरानी बिजली के तार फैली हे। पूरी जर-जर हो गई हे। महीना दो महीना मे एते को बिजली को तार टूटत हे। जब भी हम लोग बिजली विभाग शिकायत करन जात हे तो जे.ई नई मिलत हे। राजू रैकवार ओर भोला श्रीवास कहत हे की अक्टूबर 2015 मे बिजली के तार टूटे से एक सुअर ओर एक गाय की मोत हो गई हती। 26 जनवरी 2016 खा बिजली को तार टूट के बच्चन की गाड़ी पे गिर गओ हतो। जीसे बड़ी दुर्घटना होंय से बची हती। एक हफ्ता पेहले बिजली को तार टूट गओ हतो। जीसे गांव को लड़का बाल-बाल बचो हतो। हम लोग बिजली विभाग मे जात हे तो एक दो दिन मे सही कराये को अश्वासन दे देत हे। ऊखे बाद देखन तक नई आउत हे।
हम डी.एम. से दरखास देन जात हते तो दरखास नई देन दओ हे। हमाये मोहल्ला मे लगभग ढाई सौ मकान बने हे। दिन भर लड़का बिटिया बाहर खेलत हे। अगर हमाये एते के जल्दी तार न बदले जेहे तो कभऊं भी कोनऊ बड़ी घटना हो सकत हे। ईखो जिम्मेंदार बिजली विभाग हो हे। चरखारी बिजली विभाग के जे.ई. प्रवीण कुमार से बात करे की कोशिश करी पे नई मिल पाये हे।

रिपोर्टर –  सरोज सैनी