करन्ट लागें से मर गई बिटिया

ईसे लगो करन्ट
ईसे लगो करन्ट
आराधना को परिवार
आराधना को परिवार

जिला महोबा, ब्लाक चरखारी, कस्बा चरखारी, रायनपुर मोहल्ला। एते के मुकेश कुशवाहा के तीन साल की बिटिया आराधना 3 जनवरी 2014 खा मोहल्ले में खेलत हती। तभई बिजली के खम्भा से करन्ट लग गओ हे। जीसे बिटिया ने मुंह से खून फेंक दओ, ओर मोके में ऊखी मोत हो गई।
आराधना के बाप मुकेश ओर बाबा भइयन ने बताओ कि हमाये दूसर घर के एते बीसन साल से बिजली को खम्भा लगो हे। जीखे सहायता के लाने लोहे की छडि़या लगी हती। जीमें बरसात के कारन करन्ट उतर आओ हतो। ईखी सूचना हमने चरखारी बिजली विभाग में दई हती, कि छडि़या मे करन्ट उतर आओ हे, पे चरखारी बिजली विभाग वालेन ने लापरवाही खे हद कर दई। जीखा भुगतान हम आपन बिटिया की मोत से करत हें।

बिटिया की दाई शिवरानी बताउत हे कि जभे आराधना खेलन गई हती। तभे हम खाना बनाउत हते। बाकी सब जने खेत गये हते। हमे आदमियन ने बताओ कि आराधना खे करन्ट लग गओ हे। तो में बिटिया के मोह में हाथ से छुटाये खा दौड़ी, पे आदमियन ने डन्डा मार के छुटाओ हतो। ई बीचन केऊ दइयां चरखारी बिजली विभाग खा फोन करो, पे न ओते से बिजली काटी गई, ओर न कोनऊ देखन आओ। बिटिया ने एतई मुंह से खून फेंक दओ हतो। फिर भी हम सरकारी अस्पताल ले गये, पे ओते डाक्टर ने आराधना खा मरो घोषित कर दओ। तभई हमने चरखारी कोतवाली में रिपोर्ट लिखाई हे।
कोतवाली के मंुशी मोतीलाल वर्मा ने बताओ कि धारा 304 (बिजली से एक्सीडेन्टं) के तहत लाइनमैन ओर विद्युत विभाग के अधिकारियन के खिलाफ मुकदमा लिखो हे। अभे ईखी जांच चलत हे।